रामायण मंचन

 देश भर में शारदीय नवरात्रों में रामलीला मंचन किया जाता है। यानि आजकल देश के कोने-कोने में रामलीला की धूम मची है। नेशनल विक्टर पब्लिक स्कूल आई॰ पी॰ एक्सटेंशन की ओर से प्री स्कूल एवं प्री प्राइमरी के बाल कलाकारों द्वारा रामायण मंचन किया गया। इस रामायण मंचन में भगवान श्री राम के जीवन की प्रमुख घटनाओं को बहुत ही खूबसूरत तरीके से दर्शाया गया। 

 यह कार्यक्रम 26 सितंबर से लेकर 30 सितंबर 2022 तक चला। कार्यक्रम का शुभारंभ स्कूल की डायरेक्टर श्रीमती निधि पांचाल ने किया। अपनी ओजपूर्ण वाणी में उन्होंने बाल कलाकारों का उत्साहवर्धन कियाऔर अभिभावकों को धन्यवाद दिया, जिनके सहयोग के बिना इस कार्यक्रम को मूर्त रूप देना कठिन ही नहीं असंभव था। 

 श्रीमती वीना मिश्रा जोकि स्कूल के प्रधानाचार्या पद पर आसीन हैं, एक वैज्ञानिक दृष्टिकोण रखने वाली आधुनिक महिला हैं। साथ ही वे प्राचीन भारतीय संस्कृति के मानवीय मूल्यों को नई पीढ़ी तक पहुँचाने व चरित्र- निर्माण में विश्वास रखती हैं। वे विद्यार्थियों को बौद्धिक रूप से सशक्त बनाने के साथ-साथ भावनात्मक रूप से भी मज़बूत बनाना चाहती हैं, जिससे वे जीवन में आने वाली हर चुनौती का सामना कर सकें। इस दिशा में वे निरंतर प्रयास करती रहती हैं। इसी प्रयास में एक अन्य कड़ी है 'रामायण मंचन'|

 नन्हे बाल कलाकार जिन्हें अभी ठीक प्रकार से बोलना भी नहीं आता, अपने भाव प्रकट करने भी नहीं आते  रामायण की चौपाई गाते अति सुंदर लग रहे थे। बाल-कलाकारों के संवाद वेशभूषा अस्त्र-शस्त्र व रंगमंच की सभी सामग्री पर बहुत मेहनत की गई। कला-विभाग द्वारा मंच को बहुत ही सुंदर तरीके से सजाया गया। विशेष प्रभाव डालने के लिए आधुनिक तकनीक का प्रयोग किया गया। कुल मिलाकर यह एक सामूहिक प्रयास था।

भगवान श्रीराम के राज्याभिषेक व आरती के साथ कार्यक्रम का समापन किया गया।

अंत में प्रधानाचार्याजी ने सभी अभिभावकों को धन्यवाद दिया व उनके सहयोग की प्रशंसा की। 

चरित्र-निर्माण समाज-निर्माण और राष्ट्र-निर्माण में हमारी शिक्षा व्यवस्था का विशेष योगदान है। आधुनिकता के साथ यदि हम पुराने जीवन मूल्यों को अपनीआने वाली पीढ़ी को विरासत के रूप में देते हैं तो विश्व में अपना अलग स्थान बना सकते हैं।

October 02, 2022